मर्डर के मामले में अन्य फरार आरोपी गिरफ्तार
Date : Friday, May 19, 2017

मर्डर के मामले में अन्य फरार आरोपी गिरफ्तार जिला सिरोही के थाना रोहिडा क्षैत्र में दिनांक 15.5.17 को प्राथी श्री भाणाराम पुत्र श्री फागणाराम जाति गमेती भील उम्र 35 साल पेशा खेती निवासी पुलिस चैकी भुला के पास थाना रोहिडा ने घटनास्थल पर एक लिखित रिपेार्ट इस आशय की पेश की कि मेरा भाई माणाराम ता 11.5.17 को घर से शाम को निकला था आज तारीख 15.5.17 को सुबह तक घर नही आया। तीन चार दिनो से पुरा परिवार ढुढता रहा इस दौरान हमें पता चला कि दि.11.5.17 को शाम को मेरे भतीज रामाराम धनाराम पुत्र जेताराम जाति भील ने साथ बैठकर शराब पी थी उसके बाद मैरे भाई को किसी ने नही देखा। आज तारीख 15.5.17 को शाम को करीब चार बजे मालुम पडा कि उसके घर के पास नाले में से बुदबु आ रही थी जिस पर मैनें जाकर देखा तो मेरा भाई माणाराम एक खडडे में रेती व पत्थर से दबा हुआ पडा था। दिनांक 11.5.17 को मेरे भाई व भतीजो ने जहाॅ पर शराब पी थी उसी जगह मेरे भाई कि लास रेत व पत्थरों में दबी हुयी पडी है जो दिनांक 11.5.17 को मेरे भतीज रामाराम व धनाराम पुत्र जैताराम जाति भील निवासी भुला (पुलिस चैकी के पास) शराब पीलाकर जान से मारकर खडडे व रेती डाल कर दबा दिया। बाद घटना मुल्जिम मौके से फरार हो गये थे। जिस पर श्रीमान् पुलिस अधीक्षक महोदय श्री ओमप्रकाश एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय श्री सतनाम सिंह के निर्देशन में फरार मुल्जिम रामाराम व सुरेश की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिये जाकर श्रीमान् पुलिस उप अधीक्षक महोदय श्री विजयपाल सिंह के आदेशानुसार एक टीम श्री साबीर मोहम्मद उ.नि. थानाधिकारी के नेतृत्व में, हैड कानि छैल सिंह, हैड कानि शिवपाल सिंह कानि विजयपाल का गठन किया गया। टीम द्वारा रात दिन पहाडीयों में लगातर सार्थक प्रयास करते हुए इस हत्याकांण्ड में लिप्त रामाराम पुत्र जेताराम गमेती भील उम्र 20 साल पेशा खेती निवासी भुला पुलिस चैकी भुला के पास थाना रोहिडा को मुखबीर की ईतला पर साण्डमारिया थाना कोटडा जिला उदयपुर से दस्तयाब कर कल दिनांक 18.5.17 को गिरफ्तार किया गया, जिसे आज श्रीमान न्यायिक मजिस्टेªट पिण्डवाडा से 2 योम पीसी रिमाण्ड प्राप्त किया गया, जिससे विस्तृत पुछताछ जारी है, आज दिनांक 19.5.17 को अन्य आरोपी सुरेश कुमार पुत्र धर्माराम जाति गमेती भील निवासी भुला पुलिस चैकी भुला के पास थाना रोहिडा बाद घटना के मुल्जिम गिरफ्तारी से बचने के लिए पहाडी एंव जगल क्षैत्र में छुपता रहा है, पुलिस टीम के सदस्य हैड कानि छैल सिंह व कानि मनोज कुमार के द्वारा पानीयाफली वालोरिया दस्तयाब कर लिया गया हेैं, जो बाद पुछताछ में उक्त हत्याकांण्ड में शामिल होने एवं जुर्म स्वीकार करने पर गिरफ्तार किया गया। उक्त प्रकरण में मुल्जिम रामाराम व सुरेश कुमार ने बताया कि पिपली पुनम के दिन मुल्जिम रामाराम ने बताया मृतक उसके काका मानाराम के बिना पुछे उसके कुए के मालिक की मोटरसाईकिल आबूपर्वत ले जाने से उसका काका नाराज होकर मुल्जिम रामाराम के लकडी की मारी जिससे नाराज होकर उसके काका मानाराम की पत्थरो से सिर पर मार कर हत्या कर लाश को छुपाने के लिए नाले में रेत व पत्थरो से दबा कर मौके से फरार हो गये है, प्रकरण में रामाराम व सुरेश कुमार से अनुसंधान व पुछताछ जारी है।